मंगलवार, 15 मार्च 2011

LBA और AIBA के प्रमुख प्रचारक पद से इस्तीफा

 

दोस्तों लखनऊ ब्लोगर असोसिएसन की परिकल्पना सलीम भाई ने १ दिसंबर २००९ को की थी. इसकी नीव इतनी मजबूत थी की आज यह संगठन एक विशालकाय वृक्ष बन चुका है. सच तो यह है की यह सारा श्रेय सलीम भाई को ही जाता है. इस संगठन के जो भी पदाधिकारी रहे  या हैं उन्होंने अपना कर्तव्य ठीक ढंग से निभाया की नहीं मैं कहने का अधिकारी नहीं हूँ पर मुझे एहसास होता है की मैं अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन अब सही तरीके से नहीं कर पा रहा हूँ. मैं इस संगठन का प्रमुख प्रचारक हूँ. पर पूरा ध्यान हमने "भारतीय ब्लॉग लेखक मंच" पर लगा दिया है. मैं यहाँ पर कभी कभी ही आ पाता हूँ. मैं सलीम भाई से अनुरोध करता हूँ की इस पद की जिम्मेदारी किसी ऐसे व्यक्ति को दे जो संगठन को मजबूत करने में सहयोग करे. मैं इस परिवार का सदस्य हूँ और हमेशा बना रहूँगा. जब भी आवश्यकता पड़ेगी एक सलाहकार के रूप में मौजूद रहूँगा. यदि आप लोंगो को आपत्ति न हो तो मैं इस पद से त्यागपत्र देना चाहता हूँ. साथ ही यही अनुमति मैं AIBA  के लिए भी चाहूँगा.
पुनश्च: १५ मार्च को मेरा जन्म दिन है जब मैं इस नश्वर जगत में पहली साँस ली आज मैं ४२ वर्ष का हो गया. आप सभी भाइयों से आशीर्वाद चाहूँगा. सभी को प्रणाम ...

10 टिप्पणियाँ:

सुज्ञ ने कहा…

हरीश जी,

जन्म दिवस की बधाईयां और ढेरों शुभकामनाएँ।

Udan Tashtari ने कहा…

जन्म दिवस की बधाईयां और ढेरों शुभकामनाएँ


-बाकी का मैटर आप लोगों का.

Learn By Watch ने कहा…

जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं

ABHIVYAKTI-अभिव्यक्ति ने कहा…

हरीश जी, आपको जन्म दिन की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ।
आप अपने इच्छित मंजिल तक अवश्य पहुँचे यह हमारी आज के दिन ईश्वर से प्रार्थना है।

मंगल यादव ने कहा…

हरीश भाई जन्म दिन पर हार्दिक बधाई। ईश्वर से प्रार्थना है कि आप को और आप के परिवार के जीवन में ढेर सारी खुशियां मिले।

डा.राजेंद्र तेला,."निरंतर" ने कहा…

हरीश जी जन्म दिन पर बधाई
इश्वर करे ये जन्म दिन
सब जन्म दिनों से बेहतर हो
निरंतर नेक कार्य करते रहो
कर्म में लगे रहो
जिस पेड़ को सींचा अब तक
मेहनत का पानी उसे पिलाते रहो
त्याग पत्र की ना सोचो
ब्लॉग मंच को आगे बढाते रहो

शिखा कौशिक ने कहा…

janm-divas ki hardik shubhkamnayen .

शालिनी कौशिक ने कहा…

हरीश जी जन्मदिन की बहुत बहुत शुभकामनायें.

ये इस्तीफा बेकार की बात है आपमें है वह योग्यता की आप कई जिम्मेदारियों को सहजता से निभा सकते हैं इस तरह अपनी जिम्मेदारियों से मुहं न मोड़ें..

हरीश सिंह ने कहा…

मैंने एक राय लिया था आप लोंगो से, सलीम भाई ने खुद ही फ़ोन करके हमें पद पर बने रहने को आदेशित किया, आप सभी ने जो हमें प्यार दिया उसके लिए मैं आप सभी का आभारी हूँ. बस ऐसे ही आशीर्वाद बनाये रखें.

Dr. shyam gupta ने कहा…

बधाई बधाई बधाई.....

श्री हरीश जी लखें, शत शत शरद की चांदनी ।
प्रीति-भाव,मधु-घट चखें,शत-शत शरद की यामिनी ॥

Add to Google Reader or Homepage

 
Design by Free WordPress Themes | Bloggerized by Lasantha - Premium Blogger Themes | cna certification