मंगलवार, 30 अगस्त 2011


कलम तू भी बोल


कलम कुछ तू भी बोल
दिल की अपनी आवाज खोल
अन्ना के समर्थन में
क्या बच्चे, क्या बूढे़
क्या लड़के, क्या लड़कियां
सब बोल बोल रहे हैं
भ्रश्टाचार पर
तुम क्यों चुप हो
कलम कुछ तुम भी बोल

नेता-अभिनेता
सामाजिक कार्यकर्ता
मीडिया, लेखक
सब बोल रहे
भ्रश्टाचार के मुददे पर
अन्दर की अपनी भड़ास निकाल
कलम कुछ तू भी बोल


( photo from google)

नेता सारे एक हुए
राजनीति कर रहे अनषन पर
देष भर में प्रदर्षन देख
संसदीय प्रकि्रया की आड़ ले रहे
नींव जनलोकपाल रखने की
उनके अन्दर खोट दिखता है
बोल रही है जनता
अगस्त क्रांति है अन्ना की
आजादी की दूसरी लड़ार्इ
जारी है भ्रश्टाचार के खिलाफ
व्यवस्था परिवर्तन मुददे पर
है चारो तरफ हल्ला बोल
भ्रश्टाचारी पर तनी गुलेल
कलम कुछ तू भी बोल

मौन मत हो
मौका है भड़ास निकालने की
21वीं सदी के महानायक
अन्ना के अनषन पर कुछ लिख
यह समय की मांग है
अखबार भरें हैं अन्ना से
टी.वी न्यूज में छाये अन्ना
देष का भला कैसे हो
अनषन कर रहे देष के प्यारे
कलम कुछ तू भी बोल
दिल की अपनी आवाज खोल



-मंगल यादव
हरियाणा न्यूज,दिल्ली


1 टिप्पणियाँ:

manu shrivastav ने कहा…

कलम की ताकत कोई हमसे पूछे. हम तो बाकायदा कलम की पूजा करते हैं. कलम में जो ताकत है वो उतनी ताकत तो परमाणु बोम्ब में न होगी .
-----------------------------
मुस्कुराना तेरा
-----------------------------
अन्ना जी के तीन....

Add to Google Reader or Homepage

 
Design by Free WordPress Themes | Bloggerized by Lasantha - Premium Blogger Themes | cna certification