गुरुवार, 9 फ़रवरी 2012

इस शीर्षक को तुरंत बदल दे!



इस शीर्षक को तुरंत बदल दे!




अशोक जी ,




 आपसे प्रार्थना  है कि इस शीर्षक को तुरंत बदल दे .यह शीर्षक 


 ''भारत  माता ''की गरिमा को तो चोट पहुंचा ही रहा है साथ 


भारत के करोड़ों  देश- प्रेमियों  को भी आहत कर रहा है जो माता 


की आन पर प्राण देने के लिए हर पल तैयार हैं .






''जो भारत माता का रेप कर रहे हैं, उन से बुरा काम तो इन बेचारों ने नहीं 

किया ''

                                                                    शिखा कौशिक 
                                                               [bhartiy nari ]






3 टिप्पणियाँ:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

सही पोस्ट लगाई है आपने!

शिखा कौशिक ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
तेजवानी गिरधर ने कहा…

शीषक वाकई घटिया है

Add to Google Reader or Homepage

 
Design by Free WordPress Themes | Bloggerized by Lasantha - Premium Blogger Themes | cna certification