शनिवार, 16 अप्रैल 2011

एक ‘नॉन स्टॉप मुशायरे‘ का सफ़ल आयोजन, सबसे पहले आये जनाब रूपचंदशास्त्री मयंक जी



हिंदी ब्लॉग जगत में पहली बार एक ‘नॉन स्टॉप मुशायरे‘ का सफ़ल आयोजन किया जा रहा है और इसमें हिंदी ब्लॉग जगत की नामवर हस्तियां मंचासीन हैं। जिनमें सबसे पहले आये जनाब रूपचंदशास्त्री मयंक जी, उनके बाद शालिनी कौशिक जी तशरीफ़ लाईं और फिर जनाब कुंवर कुसुमेश जी जलवा अफ़रोज़ हुए। कवि राजेंद्र ‘तेला‘ जी भी आपको यहां मिलेंगे और ब्राह्मण पुत्री शिखा कौशिक जी भी अपनी रचनाओं के क़ीमती मोती यहां लुटा रही हैं। इन सभी के साथ यह बंदा भी आपको दिखेगा और एक ऐसा नाम भी आपको यहां दिखेगा जो पहली बार किसी साझा ब्लॉग में शामिल हुआ है। यह नाम है बहन ‘शन्नो जी‘ का। शन्नो जी फ़ेसबुक की एक मशहूर हस्ती हैं। उनकी काव्य रचनाएं अक्सर आपकी नज़र से गुज़रती रहती हैं। इसी के साथ लगातार स्थापित स्तरीय और उदीयमान, हर वर्ग के शायर और कवि रोज़ाना इस मंच पर स्थान ले रहे हैं। हरेक कवि और शायर का हम तहे-दिल से इस्तक़बाल करते हैं। 
आप भी इस ‘नॉन स्टॉप‘ मुशायरे में आमंत्रित हैं। आप अगर एक कवि या शायर हैं और आप भी इस मुशायरे में अपनी रचना पेश करना चाहते हैं तो अपनी ईमेल आईडी भेज दीजिए इस पते पर 
eshvani @gmail .com
एक सामईन अर्थात श्रोता के तौर पर तो बहरहाल आप सदा सादर आमंत्रित हैं ही। आपके सुझावों का भी स्वागत है। अगर आप अपने कमेंट के साथ कोई शेर या काव्य पंक्तियां भी दिया करें तो उससे मुशायरे में चार चांद लग जाएंगे।
...तो जनाब तशरीफ़ लायें, आने के लिए दरवाज़ा यह रहा : http://mushayera.blogspot.com/

4 टिप्पणियाँ:

Sawai Singh Rajpurohit ने कहा…

"सुगना फाऊंडेशन जोधपुर" "हिंदी ब्लॉगर्स फ़ोरम" "ब्लॉग की ख़बरें" और"आज का आगरा" ब्लॉग की तरफ से सभी मित्रो और पाठको को " "भगवान महावीर जयन्ति"" की बहुत बहुत शुभकामनाये !

सवाई सिंह राजपुरोहित

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

सभी नामचीन्ह साहित्यकारों से रूबरू होना अच्छा लगा!

हरीश सिंह ने कहा…

बहुत अच्छी पोस्ट, शुभकामना, मैं सभी धर्मो को सम्मान देता हूँ, जिस तरह मुसलमान अपने धर्म के प्रति समर्पित है, उसी तरह हिन्दू भी समर्पित है. यदि समाज में प्रेम,आपसी सौहार्द और समरसता लानी है तो सभी के भावनाओ का सम्मान करना होगा.
यहाँ भी आये. और अपने विचार अवश्य व्यक्त करें ताकि धार्मिक विवादों पर अंकुश लगाया जा सके.,
मुस्लिम ब्लोगर यह बताएं क्या यह पोस्ट हिन्दुओ के भावनाओ पर कुठाराघात नहीं करती.

poonam singh ने कहा…

सभी नामचीन्ह साहित्यकारों से रूबरू होना अच्छा लगा!

Add to Google Reader or Homepage

 
Design by Free WordPress Themes | Bloggerized by Lasantha - Premium Blogger Themes | cna certification